ओढ़ां: किसान के नशेड़ी बेटे का शव नरमे के खेत में मिला

मीठड़ी निवासी किसान जगतार सिंह का इकलौता बेटा गुरपाल सिंह नशे का आदी था जो शुक्रवार से घर से गायब था।

ओढ़ां: किसान के नशेड़ी बेटे का शव नरमे के खेत में मिला
X

नशे की ओवरडोज़ से हुई मौत

ओढ़ां: सिरसा जिले में नशे का प्रकोप हर दिन विकराल रूप धारण करता जा रहा है। सबसे ज्यादा युवा नशे की जकड़ में फंसते जा रहे हैं। अब हालात ऐसे हो गए हैं कि हर रोज सिरसा जिले में कहीं न कहीं से नशे की अत्यधिक मात्रा में लेने के कारण युवाओं की मौत की खबर सुनने को मिल रही है। ऐसा ही मामला सिरसा जिले के ओढ़ां क्षेत्र के गांव मीठड़ी से सामने आया है। मीठड़ी निवासी किसान जगतार सिंह का इकलौता बेटा गुरपाल सिंह नशे का आदी था जो शुक्रवार से घर से गायब था। काफी समय तक घर नहीं पहुंचने पर परिजनों ने गुरपाल सिंह की खोजबीन शुरू की। परिजनों द्वारा खोजबीन करने पर पता चला कि टप्पी गांव का मंदीप उसे नशे की डोज देता था और उस दिन उसे ओवरडोज इंजेक्शन देने के कारण गुरपाल सिंह की मौत हो गई।

ये भी पढ़ें: Sonali Phogat Death Mystery: क्लब मालिक, ड्रग तस्कर गिरफ्तार


बेटा था नशा करने का आदी:
पुलिस ने मृतक के पिता जगतार सिंह की मंदीप पुत्र पवन कुमार के खिलाफ गैर इराद्तन हत्या का मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू की। जगतार सिंह ने अपने बयान में कहा कि उसका 31 वर्षीय इकलौता बेटा गुरपाल सिंह नशा करने का आदी था। शुक्रवार को सुबह घर से बिना बताए बाहर चला गया। शनिवार को किसी ने सूचना दी कि गांव टप्पी बस स्टैंड के पास नरमे के खेत में एक लाश पड़ी है। वहां जाकर देखने से पता चला कि यह लाश से गुरपाल सिंह की है। जगतार सिंह ने कहा कि नशा युवाओं को सबसे ज्यादा चपेट में ले रहा है।

ये भी पढ़ें: पति को पत्नी द्वारा बेवजह गाली देना, प्रताड़ित करना क्रूरतम अपराध: छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट


देश विदेश की ख़बरों के लिए: क्लिक करें।

Tags:
Next Story
Share it